Jantar Mantar on 3 August at 3 pm

31 July, 14: चलो जंतर मंतर

अरविंद तुझसे शिकवा कैसा, एक तूने ही तो राह दिखाई है
गिला तो उनसे है जिन्होने “आप” की राह भटकाई है

arvind

No comments yet.

Leave a Reply